fbpx

अपने पाठ्यक्रमों को बढ़ावा देने के लिए प्रभावित करने वालों के साथ कैसे सहयोग करें

Vlogger Young female vlogger recording video tutorial session of finance and economy influencers stock pictures, royalty-free photos & images

आज की वीडियो में हम बात करेंगे कि क्या आपको मल्टीपल कोर्स सेलिंग वेबसाइट्स के लिए कोर्सेज बनाने चाहिए या नहीं।

सबसे पहले, इसके फायदे की बात करते हैं। मल्टीपल वेबसाइट्स पे अपने कोर्सेज़ सेल करने से आपको एक वाइडर ऑडियंस मिलता है। आप अपने कोर्सेज़ को कई वेबसाइट्स पे अपलोड कर सकते हैं और इससे आपके सेल्स इनक्रीस होते हैं।

लेकिन, इसका एक डाउनसाइड भी है। अगर आप अपने कोर्सेज़ को मल्टीपल वेबसाइट्स पे सेल करते हैं, तो आपको हर वेबसाइट के लिए अलग-अलग कोर्स बनाने होते हैं, जो कि टाइम कंज्यूमिंग हो सकता है।

अब आपको डिसाइड करना होगा कि क्या आपको मल्टीपल वेबसाइट्स पे कोर्सेज बनाने चाहिए या नहीं।

सेल्स को कुछ लोग काला और प्राकृतिक प्रतिभा दोनों तरीके से देखते हैं, लेकिन सही टूल्स और नॉलेज के साथ कोई भी व्यक्ति एक सेल्स अथॉरिटी बन सकता है। क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग स्ट्रैटेजीज़ को इम्प्लीमेंट करके, सेल्स को बढ़ाने और कस्टमर लॉयल्टी को बढ़ाने में मदद मिलती है।

क्रॉस-सेलिंग में, उपभोक्ता को उनके पहले की खरीदी से संबंधित आवश्यक प्रोडक्ट्स या सेवाओं का बेचना शामिल होता है। फॉर एक्सैम्पल, जब कोई फ़ास्ट-फ़ूड रेस्टोरेंट में बर्गर ऑर्डर करता है, तो उन्हें फ्राइज़, सोडा और डिज़र्ट भी ऑर्डर करने के लिए प्रेरित किया जा सकता है।

अपसेलिंग, दूसरी तरफ़, कस्टमर्स को उसे महंगा प्रोडक्ट खरीदने के लिए प्रेरित करना होता है, जो उन्होंने पहले खरीदने का इरादा किया था। इसमें फ्लाइट टिकट अपग्रेड या कस्टमर्स को एक उच्च स्तर वाले सब्सक्रिप्शन प्लान में अपग्रेड करने की प्रेरणा शामिल हो सकती है।

क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग प्रभावी स्ट्रैटेजीज़ होते हैं क्योंकि ये हर कस्टमर के रेवेन्यू को बढ़ाते हैं और उनकी मौजूदा रूचि और खरीदने की इच्छा पर आधारित होते हैं। इन तकनीकों को विचारपूर्ण और नैतिक तरीकों से इम्प्लीमेंट करना महत्वपूर्ण है, जिससे ये कस्टमर के लिए महत्व प्रदान करें और ये मैनिपुलेटिव तकनीकों के रूप में नहीं प्रत्यक्ष किए जाएं।

यहां हमने सफल क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग के लिए टॉप पांच स्ट्रैटेजीज़ दिए हैं:

अपने उद्योग को समझें: अपने व्यापार के लिए क्या और कितने ऑफरिंग्स सही होंगे, इसका मूल्यांकन करें और क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग को लागू करने की आर्थिक और प्रबंधिक सद्भावना का विचार करें।

टारगेट ऑडियंस को समझें: अपने ग्राहकों के आवश्यकताओं और खरीदारी की आदतों पर डेटा जमा करें, जिससे आपकी क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग ऑफर्स को जानकारी मिल सके। ग्राहकों की जानकारी जमा करने और सर्वेक्षण करने के लिए MightyForms जैसे टूल्स का इस्तेमाल करें।

नैतिक बनें: धूर्त प्रथाओं से बचें और ये सुनिश्चित करें कि आपकी क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग ऑफर्स सचमुच ग्राहक के लिए उपयोगी हैं। ग्राहक के रूचि और सामर्थ्य पर ध्यान केंद्रित करें।

विशेष ऑफर्स तैयार करें: क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग के लिए विशेष ऑफर्स तैयार करें जो ग्राहकों के लिए आकर्षक हों और उन्हें अधिक मूल्य प्रदान करें। ये ऑफर्स क्रिएटिव और आकर्षक होने चाहिए जो ग्राहकों को संवेदनशील करें और उन्हें आपकी ऑफर्स की ओर आकर्षित करें।

सही संचालन और समर्थन प्रदान करें: क्रॉस-सेलिंग और अपसेलिंग ऑफर्स को समर्थित करने के लिए सही प्रणाली और ग्राहक सेवा को सुनिश्चित करें। ग्राहकों को आरामदायक और आसान तरीके से अपने विकल्पों को एक्सप्लोर करने और खरीदारी करने की सुविधा प्रदान करें।

यदि आप मल्टीपल कोर्स सेलिंग वेबसाइट्स के लिए कोर्सेज बनाने की सोच रहे हैं, तो आपको इन स्ट्रैटेजीज़ को ध्यान में रखना चाहिए और ग्राहकों की जरूरतों के आधार पर अपनी कोर्सेज़ का चयन करना चाहिए। समय और संसाधनों की उपलब्धता के साथ विचार करें और विशेषज्ञों के साथ परामर्श करें, यदि आवश्यक हो, जिससे आप बेहतर रूप से अपने उद्योग में ये स्ट्रैटेजीज़ लागू कर सकें।

error: Content is protected !!
Scroll to Top